प्रेमिका ने रेप के केस की धमकी दे 2 लाख मांगे, दूसरी जगह शादी की तो प्रेमी ने दी जान…

0
415

ऊझा  गांव में गुरुवार शाम को बीए-फ़र्स्ट ईयर के छात्र 18 वर्षीय अरुण ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। वह एक युवती नंदनी से प्रेम करता था। दो साल से दोनों की शादी की बात चल रही थी। लड़की वाले अरुण को देखने के लिए भी अाए थे। आरोपियों ने प्रेम जाल में फंसाकर छात्र से 40 हजार रुपए ऐंठे, फिर रेप केस में फंसाने की धमकी देकर दो लाख रुपए की डिमांड कर रहे थे। इस बीच परिजनों ने युवती की दूसरी जगह शादी कर दी। इससे आहत होकर छात्र ने जान दी है।

इस प्रकरण में अरुण की मौसेरी बहन मोनिका भी शामिल थी। उसी ने अरुण की अपनी चचेरी ननद नंदनी से दोस्ती कराई थी। अरुण के पिता सुभाष ने मोनिका, नंदनी, उसके पिता सोमपाल, मां और भाई राहुल के खिलाफ केस दर्ज कराया है।  सुभाष ने बताया कि अरुण प्राइवेट बीए कर रहा था। साढ़ू की बेटी मोनिका का शादी मंजूरा करनाल में हुई थी। मोनिका ने अपनी चचेरी ननद नंदनी निवासी रैरकलां से अरुण की दोस्ती कराई थी। मोनिका के कहने पर नंदनी के परिजन अरुण को देखने के लिए आए थे। नंदनी की मां ने शादी के लिए हां कर दी थी। दो साल तक दोनों बातचीत करते रहे।

बाद में मोनिका ने कहा कि नंदनी के पिता शादी के लिए आनाकानी कर रहे हैं। दोनों की कोर्ट में शादी करा देते रहे। इस बीच मोनिका ने नंदनी का रिश्ता दूसरी जगह करा दिया। नंदनी की 31 जनवरी को शादी भी हो गई। पिता ने बताया कि अरुण ने उनको करीब 6 दिन पहले बताया कि मोनिका, नंदनी, उसकी मां, पिता व भाई शादी के लिए ब्लैकमेल कर रहे हैं। आरोपियों को करीब 40 हजार रुपए दे दिए। अब धमकी दे रहे हैं कि नंदनी को पाना है तो घरवालों से दो लाख रुपए लाकर दे। नहीं तो नंदनी की शादी दूसरी जगह कर देंगे।

मरने से पहले पिता को कहा-नंदनी से प्यार करता हूं :

पिता ने बताया कि गुरुवार शाम को बेटा अरुण जहर खाकर घर आया। तब उसने पिता को बताया कि वह नंदनी से बहुत प्रेम करता था। उसकी शादी कहीं और कर दी गई। मोनिका ने दो साल से उसको बेवकूफ बनाकर रखा। सारे मिले हुए हैं। परिजन अरुण को निजी अस्पताल में ले गए। जहां पर देर रात अरुण ने दम तोड़ दिया। सुभाष के तीन बेटों में अरुण सबसे छोटा था। उससे छोटी एक बहन है। सुभाष मजदूरी करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here