संजलि हत्याकांड व बीटेक छात्रा गैंगरेप केस की विवेचना को एसआईटी गठित…

0
268

संजलि हत्याकांड और बीटेक छात्रा गैंगरेप कांड में एसआईटी (स्पेशल इंवेटीगेशन टीम) का गठन किया है। दोनों मुकदमों में जनवरी के अंत तक चार्जशीट लगा दी जाएगी।

एसएसपी अमित पाठक ने बताया कि 18 दिसंबर की दोपहर लालऊ (मलपुरा) में संजलि को जलाया गया था। ताऊ के बेटे योगेश ने खुदकुशी कर ली थी। विजय और आकाश जेल में हैं। मुकदमा एसिड अटैक, हत्या, जानलेवा हमला, पोक्सो और सात क्रिमनल लॉ अमिडमेंट एक्ट के तहत चलेगा। सीओ अछनेरा नम्रता श्रीवास्तव को यह विवेचना दी गई है। इंस्पेक्टर मलपुरा विजय सिंह, इंस्पेक्टर खेरागढ़ नरेंद्र शर्मा व इंस्पेक्टर एमएम गेट शिव प्रकाश एसआईटी के सदस्य हैं। विवेचना के दौरान साक्ष्य संकलन में सीओ अछनेरा की पूरी मदद करेंगे। चार्जशीट दाखिल होने से पहले एसपी पश्चिम अखिलेश नारायण उसकी समीक्षा करेंगे। चार्जशीट में किन साक्ष्यों को किस तरह शामिल किया गया है यह उन्हें बताएंगे। उसके बाद उसे कोर्ट में पेश किया जाएगा।

वहीं 18 दिसंबर की शाम पोइया घाट मार्ग पर बीटेक छात्रा से गैंगरेप हुआ था। कन्हैयालाल, रोहित, खिन्नी और मुकेश जेल में हैं। लूट, अपहरण, गैंगरेप, सामूहिक मंशा की धारा के तहत मुकदमा दर्ज है। लूट का माल भी बरामद हुआ है। इंस्पेक्टर आदित्य कुमार विवेचक हैं। एसआई अवनीश त्यागी और एसआई शिवकुमार एसआईटी के सदस्य हैं। दोनों दरोगा विवेचना और साक्ष्य संकलन में आदित्य कुमार का पूरा सहयोग करेंगे।

एसएसपी ने बताया कि दोनों मुकदमे फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलेंगे। जल्द से जल्द इनमें फैसला आएगा। पुलिस की चार्जशीट जितनी मजबूत होगी सजा दिलाना उतना आसान होगा। ताकि ऐसी जघन्य घटनाओं पर अंकुश लगे। ऐसे अपराध करने से पहले आरोपित भयभीत हों।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here