माहौल मातम में तब्दील

0
155

भरतपुर | भरतपुर के डीग थाना इलाके में लगन कार्यक्रम के बाद खुशियों का माहौल मातम में तब्दील हो गया। लगन कार्यक्रम में शामिल होकर गांव लौट रही महिलाओं और बच्चियों से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली बेकाबू होकर पलट गई। हादसे में आठ और दस साल की दो बच्चियों और 18 साल की लड़की की मौत हो गई। हादसे में 12 बच्चे बच्चियां और महिलाएं घायल बताई जा रही हैं। सभी घायलों को डीग के अस्पताल में ले जाया गया। गंभीर घायलों को भरतपुर के RBM अस्पताल रेफर किया गया है। घायलों ने बताया कि उनके परिवार के युवक अमित का आज मथुरा से लगन आया था। लगन के कार्यक्रम के लिए डीग में विजय पैलेस मैरिज हॉल था। अमित के लगन कार्यक्रम में महिलाएं मंगल गीत गा रही थीं। खुशी का माहौल था। कार्यक्रम ख़त्म होने के बाद सभी अपने घर गिरसे गांव जा रहे थे। डीग कस्बे से गिरसे गांव करीब 5 किलोमीटर दूर है। महिलाएं और बच्चे बच्चियां ट्रैक्टर ट्रॉली में बैठकर चले। कोतवाली से आगे भीम होटल के पास अचानक ट्रैक्टर बेकाबू होकर पलट गया। ट्रैक्टर ट्रॉली पलटते ही चीख पुकार मच गई। महिलाएं, बच्चियां और लड़कियां ट्रॉली के नीचे दब गए। वहां मौजूद लोगों ने तुरंत पुलिस को सूचना दी और ट्रॉली के नीचे दबे लोगों को बाहर निकालने के लिए मशक्कत की। मौके पर पहुंची पुलिस ने ट्रैक्टर ट्रॉली को जेसीबी से सीधा करवाया और सभी घायलों को निकाला। हादसे में दो बच्चियों प्रिंसी (10) और जाह्नवी (8) की मौके पर मौत हो गई।बाकी घायलों को डीग के अस्पताल पहुंचाया गया। डीग से गंभीर घायलों को भरतपुर रेफर किया गया। आरबीएम अस्पताल आते समय 18 साल की पूजा ने भी दम तोड़ दिया। प्रिंसी और जाह्नवी के शव डीग अस्पताल की मोर्चरी में रखे हुए हैं। पूजा का शव आरबीएम अस्पताल की मोर्चरी में है। घटना में छोटे-छोटे बच्चे भी घायल हुए हैं एक 6 साल बच्ची का हाथ टूट गया है। किसी व्यक्ति के पैर कट गए हैं। घटना की सूचना मिलते ही कलेक्टर आलोक रंजन, एसपी श्याम सिंह सहित प्रशासन के सभी अधिकारी आरबीएम अस्पताल पहुंचे हुए हैं।