24 घंटे में खुलासा

0
77

जयपुर | सांगानेर में पूर्व पार्षद के घर 1 करोड़ के दो किलो गोल्ड और लाखों की नगदी की लूट के मामले में पुलिस ने 24 घंटे में खुलासा कर दिया। लूट की मास्टर माइंड पूर्व पार्षद रामधन सैनी की पुत्रवधू शिल्पा ही निकली। शिल्पा ने पति से परेशान होकर घर में लूट की साजिश रची। पुलिस को पहली बार देखने में शिल्पा पर शक तो हुआ, लेकिन सबूत नहीं थे। कॉल डिटेल निकाली तो पूरे मामले का खुलासा हो गया। शिल्पा ने अपने भांजे निखिल सैनी के साथ मिल कर लूट की योजना बनाई थी। एडिशनल डीसीपी ईस्ट अवनीश कुमार ने बताया कि शिल्पा की शादी को सवा साल हुआ है। इस बीच वह दर्जनों बार अपने पति से झगड़ा कर चुकी है। शिल्पा अपने पति से छुटकारा पाना चाहती थी, इस लिए उसने घर में ही लूट की योजना बनाई। उसके अपने भांजे निखिल सैनी को बताया तो वह मदद के लिए तैयार हो गया। दो माह पूर्व एक शादी में मिलकर दोनों ने लूट की योजना बनाई थी। शिल्पा की शादी के सवा साल में 50 से भी अधिक बार निखिल उसके ससुराल आ चुका था। पुलिस अधिकारियों ने जब अलग-अलग जाकर शिल्पा से बात की तो वह अलग-अलग जवाब देने लगी। शिल्पा ने बताया कि उसके हाथ आगे से बंधे थे और मुंह पर टेप लगी हुई थी। पहला शक पुलिस को उसी समय हो गया, क्योंकि शिल्पा चाहती तो टेप हटाकर चिल्ला सकती थी। मोबाइल पास में रखा था, फिर भी उसने किसी को फोन नहीं किया। मकान के सभी दरवाजे खुले होने के बाद भी शिल्पा भाग नहीं। इन्हीं बातों से पुलिस कोक उस पर शक हो गया। शिल्पा की कॉल डिटेल खंगालकर पुलिस निखिल तक पहुंची। लूट की मास्टरमाइंड शिल्पा की 2 माह की बेटी है। बच्ची को भी अब कोर्ट प्रोसिजर क्लीयर कर जेल में जाना होगा। बच्ची अभी मां का दूध पीती है, इसलिए उसे मां से अलग नहीं किया जा सकता। कल रात से बच्ची अपनी मां के पास है। शिल्पा को अपने किए पर कोई पछतावा नहीं है। पुलिस ने शनिवार को शिल्पा और निखिल को मीडिया के सामने पेश किया तो उन्हें किसी प्रकार का कोई पछतावा नही था। दोनों आराम से आपस में बात कर रहे थे। निखिल बीकॉम का फाइनल इयर का छात्र है और मानसरोवर में एक निजी कॉलेज में पड़ता है। पुलिस निखिल के पास पहुंची तो वह शराब पार्टी कर रहा था। पुलिस ने जैसे ही उससे पूछताछ शुरू की उसने पूरा घटनाक्रम बता दिया। जिसके बाद पुलिस ने लूटा हुआ माल बरामद कर शिल्पा को भी गिरफ्तार किया।