हत्या के प्रयास

0
69

ग्वालियर | ग्वालियर में बीते दिन एक नर्सिंग होम में मरीज के अटेंडर को संदिग्ध परिस्थितियों में गोली लगने के मामले में पुलिस ने जांच के बाद घायल व्यक्ति की शिकायत पर नर्सिंग होम के संचालक के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस को हॉस्पिटल के एक कमरे से एक कट्टा और कारतूस भी बरामद हुए थे। इस मामले में अभी डॉक्टर की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। ग्वालियर के इंदरगंज थाना क्षेत्र इलाके के डॉक्टर थरेजा के न्यू लाइव हॉस्पिटल में कल 4:00 बजे के करीब सरबजीत सिंह निवासी टेकनपुर चिनार में रहने वाले संदिग्ध परिस्थितियों में पसली में गोली लगने से घायल हो गया था। घायल जब हॉस्पिटल से निकलने लगा तो स्टाफ ने उसे रोकने की कोशिश की लेकिन वह झूमाझपटी कर वहां से भाग निकला। कुछ देर बाद घायल इंदरगंज थाना पुलिस के पास पहुंचा और उसने बताया कि उसे गोली लगी है। पुलिस ने तत्काल मामले की गंभीरता को देखते हुए घायल को जया रोग अस्पताल के ट्रॉमा सेंटर में इलाज के लिए भर्ती कराया था। पुलिस ने जब घायल सरबजीत सिंह से पूछताछ की तो उसने बताया कि मुझे हॉस्पिटल के संचालक डॉ थरेजा हॉस्पिटल के अंदर एक गली में कट्टा निकालकर गोली मारी है। पुलिस ने जब हॉस्पिटल में लगे सीसीटीवी कैमरे देखे तो कैमरे में घायल को रोकते हुए हॉस्पिटल का स्टाफ दिख रहा है। फिलहाल पुलिस ने घायल की शिकायत पर डॉक्टर के खिलाफ हत्या का प्रयास का मामला दर्ज कर लिया है। इस मामले में पुलिस को जानकारी लगी है कि कुछ साल पहले एक घायल सरबजीत सिंह ने अपने बेटे का इलाज डॉक्टर थरेजा के न्यू लाइफ हॉस्पिटल में कराया था लेकिन इलाज सही नहीं होने के कारण सरबजीत के बेटे की तबीयत बिगड़ गई थी। इसी का बदला लेने के लिए सरबजीत सिंह अस्पताल अपने परिचित सतपाल को देखने आया था, जब डॉक्टर हॉस्पिटल के राउंड पर था उसी दौरान घायल सरबजीत को गोली लगी थी। पुलिस को अंदेशा है कि घायल सरबजीत ने अपने बेटे का बदला लेने के लिए डॉक्टर को फंसाने की साजिश रची हो। पुलिस को यह भी अंदेशा है कि घायल सरबजीत अपने साथी ही कट्टा और कारतूस लेकर आया हो, फिलहाल पुलिस ने डॉक्टर के खिलाफ हत्या का प्रयास का मामला दर्ज किया है, क्योंकि यह मामला अभी जांच में है जांच के बाद जो भी तथ्य सामने आएंगे उसके आधार पर अगली कार्रवाई की जाएगी।