दीपक की लौ से झुलसी…

0
60

इंदौर | इंदौर के विजयनगर इलाके में रहने वाली एक 9 साल की बच्ची की मौत हो गई। बच्ची शाम को मंदिर में दीपक लगा रही थी। इस दौरान वह झुलस गई थी। घटना के अगले दिन गुरुवार सुबह उसने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। बच्ची के पिता ने डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाया है। पुलिस के मुताबिक बर्फानी धाम इलाके में रहने वाली गुजां उर्फ गुंजन पिता सुखदेव भामोरे घर के मंदिर में दीपक लगाने के दौरान झुलस गई थी। मृतका की छोटी बहन 5 साल की परिणीता बाहर खेल रही थी। वहीं बच्ची की मां कुछ सामान लेने बाहर गई थी। दीपक लगाने के दौरान गुंजन के कपड़ों ने आग पकड़ ली। बच्ची जब आग की लपटों में घिर गई तो वह चीखने लगी। इस दौरान उसकी मां भी घर पर आ गई थी। उसने चादर डालकर बच्ची को उसमें लपेट दिया। उसे 40 प्रतिशत जली हुई अवस्था में अस्पताल ले जाया गया, जहां उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया। मृतका के पिता सुखदेव रिक्शा चलाते हैं। उन्होंने बताया कि गुंजन अक्सर घर के मंदिर में शाम को दीपक लगाती थी। पिता के मुताबिक वह शासकीय विद्यालय, विजयनगर में चौथी क्लास की पढ़ाई कर रही थी। सुखेदव ने एमवाय अस्पताल प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा कि बच्ची का उपचार सही तरीके से नहीं किया गया। गुंजन सुबह सबसे बात कर रही थी। अचानक उसकी रात में तबीयत बिगड़ी। डॉक्टर सर्जरी की बात करने लगे। इसी बीच उसकी रात में मौत हो गई।