तिहाड़ जेल से रिहा….

0
120

चंडीगढ़ | जननायक जनता पार्टी (JJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजय सिंह चौटाला जेल से रिहा हो गए हैं। उनकी सजा जनवरी 2023 में पूरी होनी थी, लेकिन 60 साल से अधिक उम्र होने के कारण उन्हें सजा में छूट मिली है। नियमों के तहत राहत मिलने पर उनकी सजा 26 जनवरी 2022 को पूरी हो गई थी। परंतु कुछ कागजी प्रकिया शेष थी। गुरुवार को वे दिल्ली तिहाड़ जेल में कागजी प्रकिया पूरी करने के बाद अपने फार्म पर पहुंचे। दुष्यंत चौटाला और परिवार के अन्य सदस्य दिल्ली ही हैं। उनके जेल से बाहर आने की सूचना मिलते ही पार्टी कार्यकर्ताओं में खुशी की लहर दौड़ पड़ी। सिरसा स्थित चौटाला आवास पर पार्टी कार्यकर्ता इकट्‌ठा होने शुरू हो गए। इस मौके पर कार्यकर्ताओं ने लड्‌डू बांटें। इससे पहले ओपी चौटाला को भी सजा से राहत मिली थी। 3206 जेबीटी शिक्षक भर्ती घोटाले में पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला और उनके बेटे अजय सिंह चौटाला सहित 53 लोगों को 16 जनवरी 2013 में सजा हुई थी। सजा सीबीआई कोर्ट ने दी थी। ओपी चौटाला ने केंद्र सरकार की 18 जुलाई 2018 की अधिसूचना का हवाला दिया था कि 60 साल से ऊपर उम्र पार कर चुके व्यक्ति, 70 प्रतिशत दिव्यांग पुरुष यदि आधी सजा काट चुके हैं तो राज्य सरकार उनकी रिहाई पर विचार कर सकती है। इसी नियम के आधार पर वे सजा पूरी होने से पहले बाहर आ चुके हैं। पिता अजय चौटाला की रिहाई पर बेटा दुष्यंत चौटाला ने खुशी जताई है। उन्होंने ट्वीट करके लिखा कि एक परिवार और एक पार्टी के तौर पर आज हमारे लिए 9 साल 25 दिन के बुरे सपने का अंत हो गया। आपकी निरंतर उपस्थिति से आशीर्वाद और समर्थन मिलेगा। आप हमारे हीरो हैं। आपको घर वापस पाकर खुशी हुई। जेजेपी के अध्यक्ष सरदार निशान सिंह ने कहा कि जननायक जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ अजय सिंह चौटाला कानूनी प्रक्रिया के तहत आज अपनी सजा पूरी कर चुके हैं। सार्वजनिक जीवन में उनकी सक्रियता से जेजेपी कार्यकर्ताओं और समर्थकों में खुशी की लहर है। उनकी सक्रियता और नेतृत्व से पार्टी की गतिविधियों को और बल मिलेगा।