यूपी की पडरौना विधानसभा सीट के ‘राजा’ और नेता कहे जाने वाले आरपीएन सिंह को अपने साथ शामिल करके भाजपा ने सपा…

0
101

कांग्रेस छोड़ भाजपा का दामन थामते ही पूर्व केंद्रीय मंत्री आरपीएन सिंह चुनावी रंग में उतर गए हैं। दिल्ली में न्यूज एजेंसी से बात करते हुए उन्होंने ‘यूपी में का बा’ का नया वर्जन गाकर सुनाया। आरपीएन सिंह कहते हैं कि यूपी में भारतीय जनता पार्टी की निर्माण बा, गुंडागर्दी और गुंडन की समाप्ति बा। आपको यहां ये बताना जरूरी है कि ‘यूपी में का बा’ गाने को लेकर सपा और भाजपाई नेता एक-दूसरे पर अपने अंदाज में हमला करते रहे हैं।

यूपी की पडरौना विधानसभा सीट के ‘राजा’ और नेता कहे जाने वाले आरपीएन सिंह को अपने साथ शामिल करके भाजपा ने सपा और कांग्रेस को जवाब तो दिया ही है, साथ ही स्वामी प्रसाद मौर्य की काट भी ढूंढ ली है। स्वामी प्रसाद मौर्य पडरौना सीट पर मौजूदा विधायक हैं और योगी आदित्यनाथ सरकार में कैबिनेट मंत्री भी रह चुके हैं। समाजवादी पार्टी ने मौर्य को अपने खेमें में लाकर भाजपा को बड़ी चोट दी थी लेकिन मंगलवार को आरपीएन सिंह की भाजपा में एंट्री के साथ पार्टी ने डैमेज कंट्रोल कर लिया है।

आरपीएन सिंह ने भाजपा ज्वाइन करने के बाद समाचार एजेंसी एएनआई से बात की। इस दौरान ‘यूपी में का बा’ का अपने अंदाज में नया वर्जन गाया। वो बोले, “यूपी में का बा भारतीय जनता पार्टी की निर्माण बा, गुंडागर्दी और गुंडन की समाप्ति बा…”

इससे पहले मंगलवार को दिल्ली में भाजपा मुख्यालय में आरपीएन सिंह ने केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और अनुराग ठाकुर की मौजूदगी में पार्टी की सदस्यता ली। इस मौके पर सिंह ने कांग्रेस के बारे में भी बात की। उन्होंने कहा कि वह 32 साल से कांग्रेस से जुड़े रहे लेकिन कांग्रेस अब पहले जैसी पार्टी नहीं रही। उन्होंने कहा कि वे पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में काम करने के लिए उत्सुक हैं।