पांच दिन में दूसरी बार……..

0
188

फरीदाबाद – फरीदाबाद पुलिस को खुली चुनौती देते हुए पांच दिन में दूसरी बार बदमाश आईडीबीआई बैंक का एटीएम काटकर 7.28 लाख रुपए निकालकर फरार हो गए। घटना सदर थाना बल्लभगढ़ क्षेत्र के डीग गांव की है। सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने जांच-पड़ताल शुरू की, लेकिन बदमाशों का कोई सुराग नहीं लगा। इससे पहले 12 फरवरी की रात को भी चौकीदार को अगवा करके बदमाश एक्सिस बैंक की एटीएम उखाड़ ले गए थे। उसमें 11 लाख 23 हजार रुपए थे। अभी तक पुलिस के हाथ पिछली वारदात को लेकर खाली हैं, वहीं अब एक और नई वारदात को बदमाशों ने अंजाम दे डाला। डीग गांव के मेन रोड पर ही आईडीबीआई बैंक का एटीएम बूथ लगा है। रात के समय एटीएम बूथ को बंद कर दिया जाता है। शनिवार की रात एटीएम बूथ का शटर बंदकर उसमें ताला लगा हुआ था। रात करीब एक बजे बूथ पर पहुंचे बदमाशों ने शटर का ताला तोड़कर अंदर घुस गए। वह साथ में गैस कटर लेकर गए थे। अंदर घुसकर शटर को बंद कर दिया ताकि किसी को भनक न लगे। अंदर बैठकर ही बदमाशों ने एटीएम को गैस कटर से काटकर उसमें रखे 7.28 लाख रुपए निकालकर फरार हो गए। सुबह करीब साढ़े आठ बजे बैंक मैनेजर को किसी ने घटना की जानकारी दी। फिर बैंक मैनेजर ने सदर थाना पुलिस को सूचना दी तो बल्लभगढ़ थाना पुलिस, सीआईए 48 और सीआईए 58 की टीम भी मौके पर पहुंच गई। वहां देखा कि पूरी मशीन गैस कटर से कटी हुई थी। एटीएम के रैक में रखी नकदी गायब थी। थाना प्रभारी नरेंद्र कुमार का कहना है कि बदमाशों ने अंदर लगे कैमरे में स्प्रे छिड़क दिया था, ताकि किसी का चेहरा साफ न आए। थाना प्रभारी ने बताया कि एटीएम बूथ के बाहर कोई कैमरा नहीं था। एटीएम बूथ से कुछ दूरी पर स्थित पेट्रोल पंप पर लगे सीसीटीवी कैमरे की जांच की गई, लेकिन बदमाशों की तस्वीर दिखाई नहीं दी। पुलिस का कहना है कि बदमाशों ने पहले इस एटीएम की रैकी की होगी। उसने पता किया होगा कि बाहर कोई कैमरा नहीं लगा है। इसके बाद घटना को अंजाम दिया है। पुलिस ने ये भी बताया कि रात के समय इस एटीएम बूथ पर कोई गार्ड भी नहीं था। इसी लिए बदमाशों ने इसे टारगेट बनाया। पांच दिन में एटीएम से पैसे निकालने की दूसरी घटना ने पुलिस के लिए चुनौती पैदा कर दी है। 12 फरवरी की रात बदमाशों ने सेक्टर 7-10 के चौकीदार को अगवाकर एक्सिस बैंक का एटीएम उखाड़ ले गए थे। उसमें 11.23 लाख रुपए थे। पुलिस की चार टीमें इस घटना का खुलासा करने में लगी हैं, लेकिन अभी तक कोई सुराग नहीं लग पाया है। खास बात ये है कि उखाड़ा गया एटीएम दो दिन पहले ही फिरोजपुर झिरका में रास्ते में पड़ा मिला था। इसके बाद भी पुलिस अभी तक बदमाशों का सुराग नहीं लगा पाई। घटना की जांच के लिए क्राइम ब्रांच की दो टीमें और एक थाना बल्लभगढ़ की टीम लगाई गई है। शहर में हो रही एटीएम चोरी की घटनाओं से पुलिस के लिए चुनौती बन गई है। जिस तरीके से एटीएम उखाड़ने और चोरी करने की घटनाएं हो रही है इसमें मेवाती गैंग काम कर रहा है। पिछले दिनों सेक्टर 7-10 की डिवाइडिंग रोड स्थित एक्सिस बैंक का उखाड़ा गया एटीएम फिरोजपुर झिरका के पास रोड के किनारे फेंका मिला। बावजूद पुलिस अभी तक इन बदमाशों तक नहीं पहुंच पाई है। फरीदाबाद पुलिस 24 घंटे पुलिस गश्त और नाके लगाकर जांच पड़ताल करने का दावा करती है। लेकिन ताबड़तोड़ हुई एटीएम कांड की घटनाओं ने पुलिस गश्त पर सवालिया निशान खड़ा कर दिया है। लोगों का कहना है कि जब पुलिस 24 घंटे गश्त करती है तो बदमाश एटीएम को कैसे उखाड़ ले जा रहे हैं। ये हाल तब है जबकि बैंक और एटीएम बूथ पुलिस सुरक्षा की लिस्ट में टाप पर होते हैं। पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह का कहना है कि अभी फरीदाबाद की करीब 2000 पुलिसकर्मी सूरजकुंड मेले में लगे हैं। पुलिस कमिश्नर ने दोनों घटनाओं का खुलासा करने के लिए क्राइम ब्रांच की टीमों को लगाया है। जल्द ही बदमाशों को पकड़ा जाएगा।