सामूहिक दुषकर्म किया……

0
156

रामगढ़ – पतरातू डैम घूमकर लाैट रही 20 साल की युवती से गुरुवार शाम कुजू क्षेत्र के मुरपा जंगल में चार युवकाें ने सामूहिक दुषकर्म किया। उसके दाेस्त काे बांधकर पीटा। छह हजार रुपए, माेबाइल छीन लिया। पुलिस ने चाराें आराेपियाें काे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। युवती की मेडिकल जांच कराई गई है। अब पुलिस धारा 164 के तहत काेर्ट में उसका बयान दर्ज कराएगी। एसपी प्रभात कुमार ने बताया कि युवती अपनी तीन बहनाें के साथ गुरुवार काे पतरातू डैम घूमने गई थी। लाैटते समय तीनाें बहनें बाेलेराे गाड़ी में बैठकर चली गई। जबकि वह अपने दाेस्त के साथ बाइक से लाैट रही थी। मुरपा जंगल में वे लाेग किसी काम के लिए रुके। तभी तीन बाइक पर चार युवक आए। गमछा से युवती के दाेस्त का हाथ-पैर बांध दिया। मारपीट की। पैसे, माेबाइल छीन लिए। युवती काे जबरन जंगल में ले गए। उससे मारपीट की,चाराें ने उससे दुष्कर्म किया। एसपी ने बताया कि दाे अाराेपियाें ने दुष्कर्म किए जाने की बात कबूल की है। बाेंगावार के लाेगाें ने बताया कि चाराें आराेपी जंगल से गुजरने वाले लोगों से लूटपाट करते थे। जंगल में आने वाले प्रेमी जाेड़ाें की आपत्तिजनक वीडियो बनाकर उसे वायरल करने की धमकी देते थे और उनसे पैसे वसूलते थे। ये लोग उनसे मारपीट भी करते थे। ऐसे में वीडियो वायरल न करने की एवज में प्रेमी जोड़े पैसे देने को मजबूर हो जाते थे। ग्रामीणों ने बताया कि ये लाेग कई महीनाें से एेसी घटनाअाें काे अंजाम दे रहे थे। घटना के बाद पीड़िता ने थाने में शिकायत की। उसने अपराधियाें की पहचान बताई। इसके बाद एसडीपीओ के निर्देश पर तत्काल कार्रवाई करते हुए पुलिस ने अमित कुमार, अनिल कुमार, संजय कुमार, मिथुन कुमार काे तीन घंटे के भीतर गिरफ्तार कर लिया। ये सभी बाेंगाबार कुजू ओपी क्षेत्र के मांडू के निवासी हैं। पीड़िता ने इन अाराेपियाें की शिनाख्त की है। गिरफ्तारी के दाैरान पुलिस काे विराेध का भी सामना करना पड़ा। रामगढ़ प्रखंड की सात साल की एक बच्ची की दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गई। वह पांच फरवरी से लापता थी। शुक्रवार काे पुलिस ने मिट्टी में दफनाया गया उसका शव बरामद किया। लड़की के नाना के बयान पर पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया है। यह बच्ची घर से करीब 10 किमी दूर अपने ननिहाल गई थी। पांच फरवरी काे वह दूसरे गांव में सरस्वती पूजा का मेला देखने गई, मगर लाैटकर नहीं आई। घरवालाें ने दाे दिन तक उसकी खाेजबीन की, पर कुछ पता नहीं चला। शुक्रवार काे परिजनाें ने रामगढ़ थाने में गुमशुदगी की रिपाेर्ट दर्ज कराई। दाेपहर में मवेशी चराने गए कुछ बच्चाें ने मिट्टी के ढेर में बच्ची काे दबा देखा ताे पुलिस काे सूचना दी गई। परिजन पहुंचे, कपड़े से उसकी पहचान की।