समर्थन देने के मुद्दे पर यू-टर्न…..

0
193

चंडीगढ़ – दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा को समर्थन देने के मुद्दे पर यू-टर्न लेने पर अकालियों पर कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने तंज कसा। मुख्यमंत्री ने कहा कि अपने राजनैतिक हितों की के लिए अकाली दल ने संवैधानिक नैतिकता का उल्लंघन किया है। उन्होंने ने कहा कि यह उपयुक्त समय है कि सुखबीर और उसके साथी एहसास करें कि ऐसे गैर-सैद्धांतिक, अनैतिक और मौकापरस्त गठजोड़ के साथ राजनैतिक भविष्य नहीं बन सकता। उन्होंने कहा कि पंजाब में 2022 के विधानसभा चुनाव अकाली दल के लिए विनाशकारी साबित होगा। शिअद के प्रधान सुखबीर बादल ने एक बयान में कहा कि दिल्ली चुनाव में पार्टी भाजपा के हक में ज़ोर लगाएगी। इसपर कैप्टन ने कहा कि अकालियों के बार-बार स्टैंड बदलने से असंवैधानिक और विघटनकारी नागरिकता संशोधन एक्ट (सीएए) पर इनके झूठों का पर्दाफाश हुआ है। उधर, कैप्टन अमरिंदर के बयान का पलटवार करते हुए कहा डॉ दलजीत सिंह चीमा ने कहा कि दिल्ली में कांग्रेस की चिंता व घबराहट की पोल खोल दी है। अब शिअद व भाजपा के गठबंधन को मिली मजबूती से कांग्रेस को नुकसान होना तय है। जिसके चलते कैप्टन अमरिंदर ने बयानबाजी कर रहे है। दिल्ली में भाजपा को समर्थन देने के अकाली दल के यू-टर्न से पार्टी के वरिष्ठ नेता नाराज हो गए हैं। उनका कहना है कि भाजपा ने हरियाणा के बाद दिल्ली में भी धोखा दिया। इसके बावजूद समर्थन क्यों दिया है। हालांकि किसी सीनियर नेता ने खुलकर नाराजगी जाहिर नहीं की है, लेकिन ये नेता जल्द ही सुखबीर बादल से बैठक करेंगे। सूत्रों के अनुसार पिछले दिनों दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के पूर्व अध्यक्ष मनजीत सिंह जीके ने शिअद से रिश्ता खत्म कर नई पार्टी जागो (जग आसरा गुरु ओट) बना ली थी। उन्होंने भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्‌डा से मुलाकात कर समर्थन का एलान किया था। जीके के निर्णय से शिअद को फैसला बदलना पड़ा। क्योंकि शिअद पीछे हटती है तो शिअद के वोटर्स जीके की तरफ जा सकते थे। वरिष्ठ नेताओं की नाराजगी दूर करने को सुखबीर वन टू वन मीटिंग करेंगे। बताया जा रहा है कि शिअद-भाजपा में मनमुटाव दूर कराने में हरसिमरत ने मुख्य भूमिका रही। शिअद से बागी वरिष्ठ नेता सुखदेव ढींडसा ने शिअद के बाद एसजीपीसी प्रधान गोबिंद सिंह लौंगोवाल घेरा। आरोप लगाया कि उनके नेतृत्व में एसजीपीसी के प्रबंधन में करोड़ों रुपए के घोटाले हो रहे हैं। कमेटी के सदस्य अनदेखी कर रहे हैं। वे जल्द इन घोटालों का पर्दाफाश करेंगे। हम इस मामले में इन्क्वायरी कराएंगे। वहीं, लौगोंवाल ने कहा कि ढींडसा बेबुनियाद आरोप लगा रहे हैं।