समारोह के लिए देंगे निमंत्रण……

0
121

रांची – झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष व गठबंधन के नेता हेमंत सोरेन बुधवार को दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगे। इस दौरान हेमंत सोनिया को अपने शपथ ग्रहण समारोह में आने का निमंत्रण भी देंगे। हेमंत साेरेन 29 दिसंबर काे दाेपहर एक बजे माेरहाबादी मैदान में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। वे झारखंड के 11वें मुख्यमंत्री हाेंगे। शपथ ग्रहण समाराेह में प. बंगाल, मध्यप्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ सहित अन्य गैर भाजपा शासित राज्याें के मुख्यमंत्रियाें और बड़े नेताओ काे आमंत्रित किया जा रहा है। झारखंड में पहली बार है, जब सबसे ज्यादा 50 विधायकाें के समर्थन वाली सरकार बन रही है। इससे पहले मंगलवार काे शिबू साेरेन के आवास पर हेमंत साेरेन काे झामुमाे विधायक दल का नेता चुना गया। इसके बाद वे झाविमाे प्रमुख बाबूलाल मरांडी के घर पहुंचे। मरांडी ने उन्हें समर्थन पत्र साैंपा। रात 8 बजे कांग्रेस विधायक गुरुजी के  आवास पर पहुंचे। वहां तेजस्वी यादव और कांग्रेस नेताओ की माैजूदगी में उन्हें गठबंधन का नेता चुना गया। गठबंधन का नेता चुने जाने के बाद मंगलवार रात 8:45 बजे उन्हाेंने राजभवन में राज्यपाल द्राैपदी मुर्मू के समक्ष सरकार बनाने का दावा पेश किया। उन्हें झामुमाे के 30, कांग्रेस के 16, राजद के एक और झाविमाे के तीन विधायकाें का समर्थन पत्र साैंपा। इस माैके पर झाविमाे विधायकाें काे छाेड़ सभी 47 विधायक माैजूद थे। झामुमाे से 6, कांग्रेस से 4, राजद-झाविमाे से 1-1 मंत्री हाे सकते हैं गठबंधन सरकार में स्पीकर का पद कांग्रेस के पास जाने से झामुमाे के छह मंत्री बनाए जा सकते हैं। वहीं कांग्रेस के चार और राजद-झाविमाे से एक-एक मंत्री बनाए जाने की संभावना है। हालांकि अभी इसे अंतिम रूप नहीं दिया गया है।