आर्थिक संकट……..कैप्टन

0
148

चंडीगढ़ –  पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राज्य में वित्तीय स्थिति पर मनप्रीत बादल का इस्तीफा मांगने संबंधी शिरोमणि अकाली दल की मांग का जवाब देते हुए कहा कि राज्य को आर्थिक संकट में धकेलने के लिए पूरी तरह अकाली जिम्मेदार हैं, जिसको पैरों पर खड़ा करने के लिए उनकी सरकार सख्त मेहनत कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि 10 साल सत्ता का सुख भोगने वाले अकालियों ने अपने निजी मुनाफ़ों के खातिर राज्य की आर्थिकता को औंधे-मुंह गिरा दिया था। मुख्यमंत्री ने अपने पिछले कार्यकाल को याद किया, जब उनकी सरकार ने मजबूत आर्थिकता छोड़ी थी, परंतु अकाली-भाजपा गठजोड़ ने अपनी लोक विरोधी और बुरी नीतियों से इसको तबाह करके रख दिया। उन्होंने कहा कि अकालियों और उसकी हिस्सेदार भाजपा ने अपने एक दशक लंबे शासनकाल के दौरान राज्य के खजाने का सारा पैसा बर्बाद कर दिया। कैप्टन अमरिंदर ने दुख जाहिर करते हुए कहा कि अकालियों की नकारात्मक नीतियों ने निवेशकों के जज्बातों को पूरी तरह पीस कर रख दिया, जिसके नतीजे के तौर पर उद्योग और कारोबारी राज्य से पलायन के लिए मजबूर हो गए थे। इन नीतियों के कारण ही राज्य पर कर्ज का बोझ और बढ़ गया। उधर, मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार को राज्य की गंभीर आर्थिक स्थिति अकालियों से विरासत के रूप में मिली है और राज्य को संकट में धकेलने वाले अकाली अब मगरमच्छ के आंसू बहा रहे हैं। कैप्टन सिंह ने कहा कि कितनी शर्म की बात है कि अपनी इन कार्यवाहियों के लिए अफसोस करने और इसके लिए लोगों से माफी मांगने की बजाय अकालियों द्वारा अब वित्तीय गड़बड़ी का आरोप उनकी सरकार और वित्त मंत्री के सिर मढ़ने की कोशिश की जा रही है।