जुड़वां बच्चों के साथ आत्महत्या…

0
180
इंदौर –  क्रिसेंट वॉटर पार्क रिसोर्ट में परिवार के साथ छुट्टी मनाने गए आईटी कंपनी के सॉफ्टवेयर इंजीनियर और उनकी पत्नी ने जुड़वां बच्चों के साथ आत्महत्या कर ली। मरने से पहले उन्होंने इलेक्ट्रॉनिक वेइंग मशीन (तौल कांटे) का इस्तेमाल कर सोडियम नाइट्रेट का डोज तैयार किया, फिर उसे पत्नी व 14 वर्षीय दाेनाें बच्चों को दे दिया। बताया जाता है फिर खुद इंजीनियर ने लिया। सभी नींद में धीरे-धीरे मौत की आगोश में चले गए। अब परिवार में केवल 82 वर्षीय मां ही बची हैं। मां से भी इंजीनियर ने आखिरी बार बुधवार शाम को ही बात की थी। मां से कहा था बच्चे बीमार हैं, घुमाने ले जा रहा हूं, लौटकर पिता का श्राद्ध करेंगे। खुड़ैल पुलिस के अनुसार घटना रिसोर्ट में गुरुवार दोपहर को सामने आई। बुधवार को अपोलो डीबी सिटी में रहने वाले सॉफ्टवेयर इंजीनियर अभिषेक सक्सेना (45), पत्नी प्रीति सक्सेना (42) बेटी अनन्या (14) और बेटे अद्वित उर्फ आदि (14) के साथ घर में मां सरोज सक्सेना (82) को छोड़कर पिकनिक पर जाने का बोलकर रिसॉर्ट
आए थे। यहां आने से पहले ही उन्होंने बुधवार को ऑनलाइन रूम 211 बुक कर लिया था। तत्काल पुलिस को सूचना दी तो खुड़ैल टीआई रूपेश दुबे व एफएसएल एक्सपर्ट डॉ. बीएल मंडलोई मौके पर पहुंचे। टीम ने जांच में पाया कि किसी भी प्रकार का संघर्ष किसी के बीच नहीं हुआ। सभी की माैत स्लाे पॉइजन से ही हुई है। पुलिस को सुसाइड नोट भी नहीं मिला है। वहीं जो केमिकल मिला है वह लैब में उपयोग किया जाता है। यहां से मिली इलेक्ट्रॉनिक वेइंग मशीन भी वे खुद ही लेकर आए थे। होटल प्रबंधन ने इसे अपनी बताने से इनकार किया है।