बारिश का सिलसिला जारी रहेगा………

0
268
लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ और राज्य के अन्य जिलों में बुधवार से ही रूक रूककर हो रही तेज बारिश की वजह से जनजीवन पूरी तरह से अस्त व्यस्त हो गया है। मौसम विभाग ने अगले दो दिनों तक राज्य में बारिश होने की सम्भावना जतायी है। इस बीच गुरुवार को लखनऊ समेत कई जिलों में बारिश शुरू हुई जो अभी तक जारी है। बारिश की वजह से हुए अलग अलग हादसों में 13 लोगों की मौत हुइ है।
बारिश की वजह से अवध क्षेत्र में कई हादसे भी हुए, जिसमें 7 लोगों की जान चली गई। महोबा में तीन, भदोही में दो और वाराणसी में भी एक व्यक्ति की मौत हो गई। बारिश की चेतावनी को देखते हुए लखनऊ, अमेठी, अयोध्या और उन्नाव में 12 वीं तक के सभी स्कूल बंद कर दिए गए हैं। मौसम विभाग के अनुसार अगले दो दिन बारिश का सिलसिला जारी रहेगा। इस बीच जिला मजिस्ट्रेट कौशल राज शर्मा ने शुक्रवार को जिले में कक्षा 12 तक के सभी स्कूलों को बंद करने का आदेश दिया है। बारिश से रायबरेली में बच्ची समेत दो, बाराबंकी में तीन, अयोध्या में एक और अंबेडकरनगर में एक ग्रामीण की जान चली गई। उधर वाराणसी के चोलापुर थाना क्षेत्र के रेवतपुर गांव में भी भारी बारिश से एक मकान गिर गया। जिसमें दबकर एक व्यक्ति की मौत हो गई. महोबा में एक मकान पर बरगद का पेड़ गिरने की वजह से घर में सो रहे दो बच्चों तीन समेत की मौत हो गई। भदोही में भी कच्चा मकान गिरने से पति-पत्नी की मौत हो। मौसम विभाग के अनुसार मानसून की टर्फ लाइन उत्तर प्रदेश, बिहार होती हुई पश्चिम बंगाल की ओर जा रही है। मौसम में यह बदलाव इसी के चलते हुआ है। आंचलिक मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक जेपी गुप्ता के अनुसार दो दिन बाद पूर्वी उत्तर प्रदेश व राजधानी में बारिश का प्रभाव कम हो जाएगा। शुक्रवार को पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो रही है। भारी बारिश के बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी प्रभावित जिलों के अधिकारियों को लेगों को तत्काल मदद उपलब्ध कराने दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा है कि अधिकारी घरों से निकलकर जहां भी जलभराव या अन्य कोई दिक्कत है वहां पहुंचकर लोगों को सहायता उपलब्ध कराएं।