मारपीट व जानलेवा हमले का आरोप है…….

0
309

प्रयागराज-  पूर्व बसपा विधायक चंद्रभद्र सिंह उर्फ मोनू सिंह और उनके भाई यशभद्र सिंह उर्फ मोनू सिंह को इलाहाबाद हाईकोर्ट के एमपी-एमएलए स्पेशल कोर्ट ने जेल भेज दिया है। दोनों भाईयों पर मारपीट व जानलेवा हमले का आरोप है। मंगलवार को इसी मामले में दोनों भाई सरेंडर करने पहुंचे थे। स्पेशल जज पीके तिवारी ने दोनों को नैनी सेंट्रल जेल भेज दिया और अगली सुनवाई के लिए सात अगस्त की तारीख तय की है। मोनू सिंह ने पूर्व केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी के सामने सुल्तानपुर सीट से लोकसभा चुनाव लड़ा था, जिसमें उन्हें हार मिली थी।
जिला पंचायत अध्यक्ष ने दर्ज कराया था केस
सोनू सिंह व मोनू सिंह के खिलाफ जिला पंचायत अध्यक्ष उषा सिंह ने केस दर्ज कराया था। आरोप है कि, तीन साल पहले 5 फरवरी 2016 को सपा मुख्यालय सुल्तानपुर से ब्लॉक प्रमुख उम्मीदवार नीलम कोरी का नामांकन कराने उषा सिंह नामांकन कराने पहुंची थीं। नामांकन के बाद बाहर निकलने पर उन्हें जातिसूचक गालियां दी गईं और उन पर जानलेवा हमला किया। इस दौरान गोली लगने से सिराज नाम के व्यक्ति को गोली भी लगी थी। कोर्ट ने इस मामले में सोनू व मोनू सिंह के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी के किया था। मंगलवार को सुनवाई के दौरान जज ने दोनों को जेल भेज दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here