ट्रैफिक पुलिस ने दी राहत….

0
262

वडोदरा-  गुजरात के वडोदरा की ट्रैफिक पुलिस ने शहरवासियों के लिए एक राहतभरा फैसला किया है। 15 अगस्त तक शहर में ट्रैफिक सिग्नल के कानून न मानने वालों से किसी तरह का जुर्माना नहीं वसूला जाएगा। इसकी वजह है हाल ही में शहर में हुई 21 इंच बारिश। इस बारिश से आई भीषण बाढ़ की विभीषिका से जूझ रहे शहर वालों को उबारने के लिए यह फैसला लिया गया है। वडोदरा में बारिश और जगह-जगह जलभराव की वजह से करीब 7000 कारें और 50 हजार दुपहियों में पानी भर गया। एक अनुमान के मुताबिक इन सभी की मरम्मत करने और वापस इन्हें उपयोग में लेने लायक बनाने पर लोगाें के करीब 23 करोड़ रुपए खर्च होंगे। अगर कार को ही ठीक कराने का मामला देखें तो इन्हें सुधारने में एक हफ्ते से डेढ़ महीने तक का समय लग रहा है। ऐसी कारों को पहले ठीक किया जा रहा है जिनके केवल पहिए डूबे थे और जो बंद हो गई थीं। लेकिन ऐसी कारें जो लंबे समय तक पूरी तरह पानी में डूबी रहीं, उन्हें ठीक कर वापस करने के लिए कार मैकेनिक डेढ़ महीने का समय मांग रहे हैं। एक कार मालिक अंकित जोशी ने बताया कि उनकी कार जो पूरी तरह डूब गई थी, डेढ़ महीने बाद ही वापस मिलेगी। वडोदरा की ट्रैफिक एसीपी अमिता वानाणी ने कहा कि पुलिस ने मानवीय आधार पर यह फैसला किया है। 15 अगस्त यानी अगले 8 दिन तक शहर में लोगों को ट्रैफिक के कानून न मानने पर जुर्माने से राहत दी जाएगी। क्योंकि वे पहले ही काफी दिक्कतों से जूझ रहे हैं। बता दें कि 31 जुलाई को एक ही दिन में वडोदरा में 20 इंच बारिश हुई थी। विश्वामित्री नदी में उफान और नदी के जलग्रहण क्षेत्रों में भी भारी बारिश के चलते बाढ़ के हालत बन गए थे। अब भी शहर पूरी तरह पटरी पर नहीं लौटा है। कई ऐसे निचले इलाके हैं जहां अब भी बरसाती पानी भरा हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here