मैसेज को गूगल पर ट्रांसलेट करके लाते थे ….

0
256

कपूरथला- नाइजीरियन इंग्लिश में बात करता है, इंग्लिश में लिखकर ही खेप मंगवाने का व्हाट्सएप पर मैसेज करता था लेकिन हमें इंग्लिश नहीं आती थी इसलिए हम मैसेज को गूगल पर ट्रांसलेट कर लेते थे। यह खुलासा मॉडर्न जेल में बंद दिल्ली से पंजाब मंगवाई गई एक किलो हेरोइन समेत पकड़े गए नशा तस्करों गुरविंदर सिंह वासी गेट हकीमां मोगा और रणजीत सिंह वासी मेहतपुर जालंधर ने पुलिस पूछताछ में किया है। यह खुलासा होते ही पुलिस ने जेल में बंद नाइजीरियन को प्रोडक्शन वारंट पर लेने की तैयारी कर ली है। एक-दो दिन में कागजी कार्रवाई पूरी होते ही उसे जेल से पूछताछ में लाया जा सकता है। खुलासा होने के बाद पुलिस ने दोनों तस्करों को जेल भेज दिया है। पुलिस अब इस बात का पता लगाने में लगी है कि जेल में बैठे नाइजीरियन के कहने पर दिल्ली से पंजाब लाई गई हेरोइन खेप कपूरथला के कौन से गांवों में पहुंचती थी। वहीं इस बात के तार भी तलाशने की कोशिश कर रही है कि कहीं दिल्ली से 5 किलो हेरोइन समेत पकड़ा गया तस्कर कपिल अरोड़ा व दिल्ली से एक किलो हेरोइन लाते पकड़े गए दो तस्कर गुरविंदर सिंह व रणजीत सिंह एक ही किंगपिन से हेरोइन खेप तो नहीं लाते थे।  29 जुलाई को मुखबिर ने सूचना दी थी कि जेल में बंद नाइजीरियन विक्टर साथियों की मदद से हेरोइन मंगवा रहा है। इस सूचना पर दो आरोपी पकड़े। उन्होंने रिमांड के दौरान पूछताछ में बताया कि वे नाइजीरियन विक्टर के कहने पर खेप लाए हैं पर उन्होंने यह नहीं बताया कि दिल्ली में खेप किससे ली थी। उनके बयान के बाद जेल प्रबंधन ने नाइजीरियन का मोबाइल पकड़ने के लिए तलाशी ली तो दो और नाइजीरियन से भी मोबाइल मिले। दिल्ली से हेरोइन किससे मंगवाई जा रही थी, यह पता अब नाइजीरियन विक्टर से पूछताछ में होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here