चौथा वनडे जीत कर ऑस्ट्रेलिया ने 5 मैचों की सीरीज में 2-2 की बराबरी की

0
364

शिखर धवन (143) और रोहित शर्मा (95) के बीच पहले विकेट के लिए हुई 193 रनों की बदौलत भारत ने 9 विकेट पर 358 रन बनाए। लेकिन पीटर हैंड्स्कॉम्ब 117, उस्मान ख्वाजा 91 ने तीसरे विकेट के लिए 192 रन की साझेदारी की। बाद में एशटन टर्नर ने छठे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए 43 गेंदों पर 84 रन की पारी खेलकर मैच भारत से छीन लिया। सीरीज का फैसला अब 13 मार्च को दिल्ली में होने वाले पांचवें और आखिरी मैच से होगा। मोहाली में इस हाई स्कोरिंग मैच से जुड़े कुछ दिलचस्प आंकड़ों पर नजर डालते है।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच मोहाली में खेले गए चौथे वनडे में भारत को चार विकेट से हार (India vs Australia) का सामना करना पडा़। ओपनर शिखर धवन के (143) रन की शानदार शतकीय वापसी पर ओपनर उस्मान ख्वाजा (91), पीटर हैंड्सकॉम्ब (117) और एश्टन टर्नर (नाबाद 84) की जबरदस्त पारियों ने पानी फेर दिया। ऑस्ट्रेलिया ने बड़े स्कोर वाला चौथा वनडे चार विकेट से जीतकर पांच मैचों की सीरीज में 2-2 से बराबरी कर ली। सीरीज का फैसला अब 13 मार्च को दिल्ली में होने वाले पांचवें और आखिरी मैच से होगा। इस हार के बाद टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली खराब फील्डिंग के साथ-साथ डिसीजन रिव्यू सिस्टम (DRS) से भी खासे नाराज नजर आए।

भारत के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी आईसीसी वर्ल्ड कप से पहले इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2019) में खेलते हुए नजर आएंगे। आईपीएल में धौनी चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान हैं और टीम को तीन बार खिताब दिलवा चुके हैं। 37 साल के धौनी पिछले साल का काफी आलोचनाओं का शिकार हुए थे, लेकिन 2019 में उन्होंने एक बार फिर से दमदार वापसी कर ली है। टीम इंडिया को 2011 में विश्व कप जितवाने वाले कप्तान धौनी हॉट स्टार के डॉक्यू ड्रामा ‘रोर ऑफ द लॉयन’ में दिखाई देंगे। इस डॉक्यू ड्रामा में महेंद्र सिंह धौनी कई राज खोलते हुए नजर आएंगे।

विराट कोहली ने मैच के बाद कहा, “सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि हम मैदान में सुस्त थे। हमें जो भी मौके मिले थे उन मौकों का फायदा उठाना चाहिए था। हम उन मौकों को अपने पक्ष में भुनाने में विफल रहे और मैच हमारे हाथ से निकल गया। पूरे खेल के दौरान विकेट अच्छी थी, लेकिन अंत में गेंदबाजी करना थोड़ा मुश्किल हो गया।”  भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए नौ विकेट पर 358 रनों का विशाल स्कोर बनाया, जिसे ऑस्ट्रेलिया ने 47.5 ओवर में छह विकेट खोकर हासिल कर लिया। भारतीय फील्डरों ने कई मौकों पर कैच छोड़े और रन आउट मिस किए।

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने मोहाली में खेले गए चौथे वनडे में मिली 4 विकेट की हार के बाद कहा कि मैच में स्टंप करने के मौके अहम होते हैं और मैदान पर खराब क्षेत्ररक्षण के कारण अंतिम कुछ ओवर में पांच मौके गंवाने की बात पचाना मुश्किल है। ऑस्ट्रेलियाई टीम इस जीत से पांच मैचों की वनडे श्रृंखला में 2-2 से बराबरी हासिल कर ली।

हार के बाद बोले कप्तान विराट कोहली- स्टंपिंग के मौके गंवाना रहा दुखद

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच मोहली में खेले गए चौथे वनडे मुकाबले में भारतीय कप्तान विराट कोहली ड्रेसिंग रूम में अपनी भावनाओं पर तब काबू नहीं रख सके जब उन्होंने जसप्रीत बुमराह को छक्का लगाते हुए देखा। पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन के आईएस बिंद्रा स्टेडियम में खेले गए इस मुकाबले में भारत टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी कर रहा था।

 जब जसप्रीत बुमराह का SIX देख स्टेडियम में उछल पड़े विराट कोहली

शेन वार्न ने कहा, ‘मुझसे यह सवाल बार-बार पूछा जाता है कि क्या विराट कोहली एकदिवसीय क्रिकेट के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी हैं? क्या वह सचिन तेंदुलकर और ब्रायन लारा से बेहतर हैं? तो मैं इसके बारे में अभी भी सोच रहा हूं। इसका जवाब तलाश रहा हूं।’

क्या विराट कोहली सचिन और लारा से हैं बेहतर? जानिए शेन वार्न का जवाब

शरीर क्रिया विज्ञान के लेक्चरर डॉ. साइमन फेरोस को लगता है कि जसप्रीत बुमराह का गेंदबाजी एक्शन जिस तरह का है, उससे उनके पीठ के निचले हिस्से में चोट की संभावना बढ़ सकती है। फेरोस और मशहूर फिजियो जॉन ग्लोस्टर ऑस्ट्रेलिया के विक्टोरिया में डिकिन यूनिवर्सिटी के खेल विभाग का हिस्सा हैं, जिन्होंने इस भारतीय तेज गेंदबाज के गेंदबाजी एक्शन का अध्ययन किया।

विशेषज्ञों की चेतावनी: जसप्रीत बुमराह का एक्शन उनके करियर के लिए खतरा

कविंदर सिंह बिष्ट (56 किग्रा) ने स्वर्ण जबकि शिव थापा और तीन अन्य ने रजत पदक जीतकर फिनलैंड के हेलसिंकी में 38वें जीबी मुक्केबाजी टूर्नामेंट में भारतीय अभियान का अंत शानदार तरीके से किया। तीन बार के एशियाई पदक विजेता थापा (60 किग्रा) के अलावा युवा गोविंद साहनी (49 किग्रा), राष्ट्रमंडल खेलों के कांस्य पदकधारी मोहम्मद हसमुद्दीन (56 किग्रा) और दिनेश डागर (69 किग्रा) ने रजत पदक अपने नाम किए।

 फिनलैंड टूर्नामेंट में कविंदर को गोल्ड, भारत को मिले 4 सिल्वर 

भारतीय क्वालीफायर प्रजनेश गुणेश्वरन ने अपने करियर की सबसे बड़ी जीत दर्ज करते हुए यहां इंडियन वेल्स एटीपी मास्टर्स टेनिस टूर्नामेंट के दूसरे दौर में दुनिया के 18वें नंबर के खिलाड़ी निकोलोज बासिलाशविली को हराया। वहीं, रोहन बोपन्ना भी अपने जोड़ीदार डेनिस शापोवालोव के साथ दूसरे दौर में पहुंच गए। इस जोड़ी ने पहले दौर के मैच में स्काटलैंड के जेमी मरे और ब्राजील के ब्रुनो सोरेस को 6-4 6-4 से शिकस्त दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here