4 मार्च सोमवार को महाशिवरात्रि का पर्व……….

0
343

4 मार्च सोमवार को महाशिवरात्रि का पर्व है। इस मौके पर पूरा परिवार एकसाथ मिलकर उपवास और पूजा करता है। इस मौके पर फलाहार में कई तरह के व्यंजन बनाए जाते हैं। आज हम आपके लिए फलाहारी थालीपीठ बनाने की रेसिपी पेश कर रहे हैं। यह महाराष्ट्र की खास रेसिपी है और सावन के सोमवार के व्रत में खासतौर से बनाया जाती है। आइए जानते हैं इसकी रेसिपी

सामग्री :
सिंघाड़े का आटा – 1 कप
आलू – 2 उबले हुए
साबूदाना – 1/2 कप (भिगोया हुआ)
सेंधा नमक – स्वादानुसार
हरा धनिया – 1 चम्मच (बारीक कटा हुआ)
हरी मिर्च – 5 बारीक कटी हुई
तेल – सेकने के लिए आवशयकता अनुसार
पानी – 1 कप
मूंगफली – 1/2 कप (भूनकर दरदरा पीस लें)

विधि :
सबसे पहले 3 से 4 घंटे पहले पानी में भिगोए साबूदाना को पानी से निकाल लें। उबले आलू को छीलकर मसल लें। अब एक बर्तन में सिंघाड़े का आटा, मूंगफली, मसले आलू, भीगे साबूदाना, सेंधा नमक, हरी मिर्च, हरा धनिया आदि सभी सामाग्री को थोड़ा–थोड़ा पानी डालकर आटा बना लें।

अब आटे की लोई बना लें। गैस जलाएं और नॉन-स्टिक तवा रखें। जब तवा अच्छे से गरम हो जाए, उसमें 1 छोटा चम्मच तेल डालकर चिकना कर लें। अब सिंघाड़े के आटे के मिक्सचर की लोई को पूरी या टिक्की की तरह बेल लें। बीच–बीच में चाकू या चम्मच से छेद कर लें।

थालीपीठ को चिकने तवे पर रखें और दोनों ओर से सेंक लें। थालीपीठ के किनारे–किनारे एक-एक बूंद करके तेल डालकर अच्छे से सेंक लें। थालीपीठ के ऊपर भी थोड़ा तेल डालें और दोनों ओर से सेक लें। ध्यान रहे थालीपीठ को मध्यम आंच में ही सेके। इसको सिकने में काफी समय लगता है।

आपका फलाहारी थालीपीठ तैयार है। इसे गरमा-गरम फलहारी चटनी, दही या आलू के रायते के साथ सर्व कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here