बयान पर पलटवार किया…….

0
92

अलीगढ़ – भाजपा के अलीगढ़ से सांसद सतीश गौतम ने मशहूर शायर मुनव्वर राणा की बेटी सुमैया के विवादास्पद बयान पर पलटवार किया है। गौतम ने कहा है कि भारत में लोकतांत्रिक व्यवस्था है। सभी को अपनी बात कहने का अधिकार है। मशहूर शायर मुनव्वर राणा की बेटी सुमैया राणा को लगता है कि भारत में उनका दम घुट रहा है तो वह पाकिस्तान चली जाएं। उनके पास वीजा और पासपोर्ट सब है, जाने का रास्ता भी खुला हुआ है। शनिवार को सुमैया ने कहा था कि हम जिस हिंदुस्तान में सांस ले रहे हैं, वो वाकई बहुत भयानक है। यहां घुटन महसूस हो रही है। वह यहां एएमयू के छात्रों के धरना प्रदर्शन में शामिल होने आई थीं। भाजपा के सांसद सतीश गौतम ने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में हो रहे धरना प्रदर्शन पर कहा- ” मैं कई बार वीसी से बात कर चुका हूं और उनको पत्र भी लिखा है। उस कैंपस में कुछ 100-150 लोग हैं, जिनका पढ़ाई से कोई लेना-देना नहीं है। वह धरना कर रहे हैं। बाकी बच्चे पढ़ाई कर रहे हैं। परीक्षा भी दे रहे हैं। परीक्षा के लिए उन लोगों का इंतजाम किया जा रहा है। जो धरना दे रहे हैं, ऐसे कोई भी छात्र अगली साल आपको यूनिवर्सिटी में नहीं दिखाई देंगे। ” गौतम ने कहा कि ये भारत है जिसमें इतनी आजादी में खुले रूप से बोल सकते हो। ‘भारत तेरे टुकड़े होंगे इंशाल्लाह’ कह सकते हो। आप भारत में आजादी के साथ कहकर चली गईं। यही पाकिस्तान होता तो आपको पता चल जाता कि आजादी क्या होती है।  मशहूर शायर मुनव्वर राणा की बेटी सुमैया राणा ने शनिवार को एएमयू में उत्तर प्रदेश की पुलिस को तानाशाह बताया था। उन्होंने कहा था कि पुलिस हमारे पीछे ऐसे भागती है, जैसे चोर सामान छीनकर भाग रहा हो। ये तानाशाही नहीं चलेगी। नतीजा ये होता है कि अगले दिन मेरे और मेरी बहन पर केस दर्ज कर दिए जाते हैं। मुझ पर दो-दो मुकदमे ये कहकर कायम होते हैं कि 144 का उल्लंघन किया। पुलिस ने महिलाओं पर लाठीचार्ज भी किया। ऐसा सोचा जाता था कि मुसलमानों की औरतें घर में ही रहती हैं। यह भ्रम आज तोड़ दिया है। उन्होंने खुशी जताते हुए कहा कि नौजवान इस मुहिम को आगे बढ़ा रहे हैं।