सीबीआई ने कसा शिकंजा….

0
34
लखनऊ-  अवैध खनन के मामले में सीबीआई ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश व उत्तराखंड के 11 लोकेशन पर छापेमारी की। यह छापेमारी यूपी के सहारनपुर, लखनऊ व उत्तराखंड के देहरादून में एक साथ की गई। सीबीआई ने सहारनपुर के डीएम रहे 1998 बैच के आईएएस अजय कुमार के लखनऊ स्थित आवास से 15 लाख कैश, दो प्रॉपर्टी के कागजात (एक कर्मशल व रेजीडेंशियल प्लॉट) को अपने कब्जे में लिया है। आईएएस अजय कुमार वर्तमान में उत्तर प्रदेश खादी एंड विलेज इंडस्ट्री बोर्ड के सेक्रेटरी हैं। बाकी आरोपियों के यहां से भी केस से जुड़े गोपनीय दस्तावेजों की बरामदगी हुई है। सहारनपुर में पट्टों के आवंटन के मामले में सोमवार को नई प्राथमिकी दर्ज की है, जिसके बाद यह छापेमारी हो रही है। सीबीआई के अनुसार, 2005 से 2015 के बीच सहारनपुर में 13 खनन पट्टों को गलत तरीके से ठेकेदारों को दिया गया। यह लीज 2012-2015 के बीच उस वक्त के डीएम ने गलत तरीके से नवीनीकरण कर दिया। ई-टेंडर के नियमों को ताक पर रखा गया। दोनों तत्कालीन डीएम पर प्राइवेट पर्संस से मिलीभीगत के आरोप हैं। दर्ज केस में सहरानपुर के तत्कालीन डीएम अजय कुमार सिंह और दूसरे तत्कालीन डीएम पवन कुमार (अभी स्पेशल सेक्रेट्री हाउसिंग एन्ड अर्बन प्लानिंग हैं) के नाम हैं। इनके अलावा लीज होल्डर्स महमूद अली, दिलशाद, मोहमद इनाम, नसीम अहमद, अमित जैन, विकास अग्रवाल, मोहमद वाजिद, मुकेश जैन ऑनर पुनीत जैन जोकि सहरानपुर के रहने वाले हैं, इनके नाम भी केस में शामिल हैं।